janhittimes

तो क्या ड्रग के ओवरडोज से हुई थी सिपाही की मौत? शव के पास मिली शीशी और इंजेक्शन से उठे सवाल

गाजियाबाद (Ghaziabad) में एक सिपही के शव मिलने से हड़कंप मचा हुआ हैं। पुलिस मामले की लगातार जांच कर रही हैं। तो वहीं, जहां सिपाही का शव मिला था, वहां मिली कुछ चीजों से कई मामलों में सवाल उठना शुरू हो गए हैं। जो पुलिस और प्रसाशन दोनों के लिए एक गुत्थी बन गई है।

तो क्या ड्रग के ओवरडोज से हुई थी सिपाही की मौत? शव के पास मिली शीशी और इंजेक्शन से उठे सवाल

बुलंदशहर में स्याना क्षेत्र के गांव मवी निवासी 35 वर्षीय सुमित यूपी पुलिस में कांस्टेबल था। फिलहाल, सिपाही की तैनाती राजकीय रेलवे पुलिस (GRP) में बागपत जिले के बड़ौत में थी। स्थानीय लोगों ने मंगलवार सुबह 11 बजे यूपी-112 कंट्रोल रूम को सूचना दी कि विजयनगर थाना क्षेत्र के प्रताप विहार में झाड़ियों में एक शव पड़ा हुआ है। पुलिस मौके पर पहुंची तो शव की शिनाख्त सुमित सिंह के रूप में हुई। सुमित ने जीआरपी बड़ौत पर सोमवार सुबह ड्यूटी की थी।

इसके बाद वह संदिग्ध परिस्थतियों में लापता हो गया था और फिर उसका शव गाजियाबाद में मिला है। मामले में एसपी सिटी का कहना है कि शुरुआती जांच पड़ताल में पता चला है कि सिपाही नशे का आदी था। शव के पास भी नशे की दवा और इंजेक्शन मिला है। सिपाही के शरीर पर चोट के निशान नहीं मिले। अंदेशा है कि नशे की ओवरडोज लेने से उनकी मौत हुई है। फिलहाल अभी भी पुख्ता रूप से कुछ कह नहीं सकते।

By : News Desk

Web Stories

Related News