janhittimes

SHO और कॉन्स्टेबल में थे समलैंगिक संबंध, फिर अश्लील वीडियो से शुरू हुआ खुलासा, अब हुए सस्पेंड

राजस्थान (Rajasthan) से एक बड़ी खबर मिल रही है जहां प्रभारी (Khinvsar police station in-charge) और डेगाना थाने (Degana Police Station) के कांस्टेबल (Constable) के बीच समलैंगिक संबंध (Homosexual Relationship) और ब्लैकमेलिंग का मामला सामने आने के बाद से हड़कंप मच गया है। बता दें, अश्लील वीडियो चैट वायरल वायरल करने की धमकी देकर एसएचओ को ब्लैकमेल करने के आरोप में कांस्टेबल को गिरफ्तार (Constable Arrested) कर लिया गया है। वहीं, मामले में एसएचओ और कांस्टेबल दोनों को सस्पेंड कर दिया गया है।

SHO और कॉन्स्टेबल में थे समलैंगिक संबंध, फिर अश्लील वीडियो से शुरू हुआ खुलासा, अब हुए सस्पेंड

आपको बता दें, पूछताछ में एसएचओ ने बताया, कांस्टेबल उसे धमकाकर रुपए ऐंठता था। एसएचओ का कहना है कि कांस्टेबल और उसके बीच हुई एक निजी वीडियोचैट को कांस्टेबल ने रिकॉर्ड कर लिया था और वह अब उसी वीडियो को वायरल करने की धमकी देकर थानाधिकारी को ब्लैकमेल करता था। इसी तरह ब्लैकमेल के जरिए उसने थानाधिकारी से करीब ढाई लाख रूपये ऐंठ लिए थे। जिससे परेशान होकर एसएचओ ने अंतत जिला पुलिस अधीक्षक को इसकी शिकायत की। जिन्होंने फिर मामले का संज्ञान लेते हुए इसपर कार्रवाई की। खींवसर थाना प्रभारी खुद मामले को लेकर जिला पुलिस अधीक्षक राममूर्ति जोशी के पास पहुंचे और उन्होंने डेगाना थाने के उस कांस्टेबल के खिलाफ रिपोर्ट पेश की।

रिपोर्ट के अनुसार डेगाना थाने का यह कॉन्स्टेबल खींवसर थाने के प्रभारी को, दोनों के बीच बने समलैंगिक संबंधों की पुष्टि करने वाले एक वीडियो को वायरल करने की धमकी देकर ब्लैकमेल कर रहा था।

यह मामला सामने आने के बाद जिला पुलिस अधीक्षक राममूर्ति जोशी ने दोनों पुलिसकर्मियों को सस्पेंड कर दिया। मीडिया से बात करते हुए नागौर जिला पुलिस अधीक्षक राममूर्ति जोशी ने बताया कि दोनों के बीच समलैंगिक संबंधों की पुष्टि होने के बाद, पुलिस की आमजन में छवि को नुकसान पहुंचाने वाले कृत्य का दोषी मानते हुए दोनों को ही सस्पेंड कर दिया गया है।

इसके साथ ही कांस्टेबल के खिलाफ खींवसर थाने में मामला भी दर्ज किया गया है और मामले में कार्रवाई करते हुए पुलिस ने कॉन्सटेबल को गिरफ्तार कर लिया गया है। इसके अलावा मामले की बाकी जांच जारी है।

Web Stories

Related News