janhittimes

जेल मंत्री ने मनाया महिला बंदी की बिटिया का जन्मदिन… पुलिसकर्मियों ने जमकर बजाई ताली

पुलिस ना केवल हमारी रक्षा करती है.. बल्कि हमारे सुख दुख का भी पूरा ध्यान रखती है। जिसका सबसे बड़ा उदाहरण मुजफ्फरनगर से देखने को मिला है। बता दें, निरीक्षण को पहुंचे जेल मंत्री ने महिला बैरक पहुंच एक बंदी की बिटिया का पहला जन्मदिन धूमधाम से मनाया। हैप्पी बर्थ डे टू यू.. की ट्यून पर मंत्री ने केक काटा और अपने हाथों से बिटिया को खिलाया भी। जेल अधीक्षक और उप कारापाल ने तालियां बजाकर बच्ची को बधाई दी। जेल राज्यमंत्री ने बिटिया को अपनी और से गिफ्ट तथा मिठाई भेंट की। बेटी का हर्षोल्लास से जन्मदिन मनता देख महिला बंदी की आंखे नम हो गईं।

जेल मंत्री ने मनाया महिला बंदी की बिटिया का जन्मदिन... पुलिसकर्मियों ने जमकर बजाई ताली

आपको बता दें, राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) कारागार एवं होमगार्ड विभाग उत्तर प्रदेश धर्मवीर प्रजापति जिला जेल पर पहुंचे। उन्होंने जेल का निरीक्षण करने के पश्चात महिला बैरक का रुख किया। इस बीच उनकी जानकारी में आया कि एक महिला बंदी की बिटिया का जन्मदिन रविवार को ही है। फिर क्या था जेल राज्यमंत्री ने पूरे ठाठ के साथ बिटिया का जन्मदिन मनाने का फैसला किया।

जेल मंत्री ने मनाया महिला बंदी की बिटिया का जन्मदिन... पुलिसकर्मियों ने जमकर बजाई ताली

तुरंत ही महिला बंदियों व जेल स्टाफ को दावत दे दी गई। एक सुंदर केक का इंतजाम किया गया। हैप्पी बर्थ डे की धुन पर सभी झूमने लगे। जेल राज्यमंत्री ने कहा कि बच्ची को किसी भी सूरत में यह महसूस नहीं होना चाहिए कि उसके पिता उसके साथ नहीं हैं। उन्होंने सभी महिला बंदियों से जेल में मिल रही अनुमन्य सुविधाओं की जानकारी ली। जेल मंत्री ने अपने हाथों से केक काटकर बिटिया को खिलाया। इस दौरान वह भावुक हो गए। कहा कि ये कैसा पल है।

एक मासूम बच्ची है, लेकिन हमें नहीं भूलना चाहिए कि इंसानियत इसी का नाम है। उन्होंने कहा कि वह अपनी और बिटिया के उज्जवल भविष्य की कामना करते हैं। जेल अधीक्षक सीताराम शर्मा से उन्होंने बंदियों को नियमानुसार एवं अनुमन्य सुविधाएं देने को कहा। उन्होंने कहा कि जेल में अपेक्षा की जाती है कि वह बंदियों के लिए एक सुधार गृह साबित हो। राज्यमंत्री को महिला बंदियों द्वारा तैयार किये गए बैग भेंट किये गए।

उन्होंने जेल में तैयार किये गए बैगों की सराहना की और हौंसला बढाने के उद्देश्य से कुछ बैग खरीद कर महिला बंदियों को उनके दाम अदा किये। कहा कि ये बैग वह मुख्यमंत्री को दिखाएंगे। जेल अधीक्षक सीताराम शर्मा, उप कारापाल सुरेन्द्र मोहन सिंह, कैलाश नारायण शुक्ला, लक्ष्मी देवी व अन्य कारागार स्टाफ शामिल रहा।

By : News Desk

Web Stories

Related News