janhittimes

UP Police Bharti : पुलिस बनने का था सपना, 2 घंटे का पेपर 3 मिनट में किया सॉल्व, फिर खुल गई पोल

नवंबर 2021 में दरोगा भर्ती (Inspector Recruitment) के लिए हुई ऑनलाइन परीक्षा (Online Exam) में कुछ अभ्यर्थियों ने 2 घंटे के पेपर को महज 3 मिनट में ही सॉल्व कर डाला। लेकिन जब पुलिस के पास यह केस गया तो पुलिस यह जानकर हैरान रह गई। आखिर कैसे आरोपियों ने मुश्किल से मुश्किल सवालों को महज कुछ ही सेकंड में पूरा कर दिया।

UP Police Bharti

दरअसल, दरोगा भर्ती (Inspector Recruitment) की यह परीक्षा नवंबर 2021 में हुई थी और गिरफ्तार हुए चारों आरोपी उस परीक्षा को देने के लिए बैठे थे। लेकिन जब एग्जाम (Exam) के बाद चेकिंग हुई तो पता चला कि चारों आरोपियों ने 2 घंटे का पेपर सॉल्व (Paper Solve) करने में महज 3 मिनट का समय ही लिया।

यानी एक सवाल को एक सेकंड में हल किया था। संदेह के बाद मामले की जांच शुरू हुई और चारों आरोपी पुलिस की गिरफ्त में आ गए। बता दें पुलिसकर्मी भी यह यकीन नहीं कर पा रहे हैं कि एक सेकंड में कैसे कोई एक सवाल हल कर सकता है। मामले में एसपी सिटी विकास कुमार (SP City Vikas Kumar) ने बताया कि कंप्यूटर (Computer) में ऑनलाइन ट्रैकिंग सिस्टम (OTS) लगा हुआ था। मामले में जांच की गई तो चार अभ्यर्थी फंस गए।

जिसके बाद शाहगंज थाने (Shahganj Police Station) में भर्ती बोर्ड के निर्देश पर मामला दर्ज कराया है। बता दें मुकदमे में आगरा(Agra), गाजियाबाद (Ghaziabad) और अलीगढ़ (Aligarh) के केंद्र व्यवस्थानपक भी नामजद हैं उनकी गिरफ्तारी होनी है। विकास कुमार ने बताया कि कुछ अभ्यर्थियों के नकल और कंप्यूटर डिवाइस का प्रयोग करने की आशंका थी। जानकारी के अनुसार, पुलिसभर्ती परीक्षा (Police Recruitment) फर्जीवाड़े में शामिल आरोपियों के नाम अंकित, संदीप, लव कुमार और वेद प्रकाश हैं।

चारों ने ही आगरा, अलीगढ़ और गाजियाबाद में ऑनलाइन परीक्षा दी थी। आरोपियों के रिकॉर्ड प्रदर्शन ने अब उन्हें सलाखों के पीछे पहुंचा दिया है। लेकिन पुलिस (Police) अब यह पता लगाने में जुटी है कि आरोपियों ने फर्जीवाड़ा करने में किस तरह की तकनीकी का इस्तेमाल किया था। अखिर कैसे सभी ने एक ही सेकंड में जटिल सवालों को हल कर दिया था।

इस मामले पर एसपी सिटी आगरा (SP City Agra) का कहना है कि वारदात में शामिल आरोपियों को रिमांड पर लेकर पूछताछ की जाएगी। गिरोह में शामिल अन्य लोगों की तलाश जारी है।

मामले में केंद्र व्यवस्थापको (Center Administrator) के खिलाफ भी कार्रवाई की गई है। गिरोह में शामिल अन्य लोगों की तलाश जारी है।

By : News Desk

Web Stories

Related News