janhittimes

Ballia: DM ने बिंदी उद्योग का किया निरीक्षण… कारीगरों से जानी कारीगरी

उत्तर प्रदेश (UP News) के बलिया (Ballia) में उत्पाद की योजना के अंतर्गत जिला अधिकारी इन्द्र विक्रम सिंह ने जनपद के बिंदी बनाने वाले मशहूर मनियर कस्बे के बिंदी उद्योग का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान उन्होंने पाया कि, यह उद्योग जनपद में काफी फैला हुआ हैं। लेकिन ट्रेनिंग और मार्केटिंग कौशल की कमी होने के कारण यह उद्योग बड़े पैमाने पर नहीं हो पा रहा है। इस संबंध में उन्होंने बिंदी उद्योग का काम कर रहे कारीगरों से इस उद्योग को और अधिक विकसित करने के लिए उनकी राय ली। साथ ही उन्होंने बिंदी बनाने, उसकी पैकेजिंग और मार्केटिंग की जानकारी हासिल की।

मामले में जिलाधिकारी ने बताया कि जनपद में उत्पाद की महत्वपूर्ण योजना है जिसके अंतर्गत लोगों को आत्मनिर्भर बनाने के लिए किसी न किसी उत्पाद को बढ़ावा देकर लोगों को रोजगार दिया जाएगा। चूंकि बिंदी उद्योग बलिया का एक महत्वपूर्ण उद्योग है। साथ ही महिलाओं का एक बड़ा वर्ग बिंदी का उपयोग हर दिन करता है, इससे पता चलता है कि, बिंदी का एक बड़ा उपभोक्ता वर्ग है। इसे और भी बड़े पैमाने पर किया जा सकता है।

Ballia

उन्होंने कहा कि इस गृह उद्योग को और बड़े स्तर पर लाने की आवश्यकता है। इसके लिए सरकार कारीगरों को सरकारी सहायता देगी। जिससे उनका कौशल विकास हो सके और यह उद्योग प्रदेश से लेकर राष्ट्रीय स्तर तक फैल सके। जानकारी के दौरान उन्होंने पाया कि बलिया के बिंदी उद्योगपति अपना माल बनारस, पटना ,कोलकाता जैसे बड़े शहरों में बेचते हैं।

मामले में जिलाधिकारी ने कहा कि, बिंदी उद्योग को विकसित करके बलिया में ही उसका बड़ा मार्केट विकसित किया जाए। जिससे और लोगों को भी रोजगार मिल सके। उन्होंने कहा कि इस रोजगार में अधिकतर महिलाएं लगी होती हैं।

अतः इस उद्योग के विकसित होने से महिलाओं के भी जीवन स्तर में बड़ा बदलाव आएगा। उन्होंने जिला उद्योग अधिकारी एस0के0 सिंह से इस संबंध में जानकारी हासिल की कि इस तरह के कितने उद्योग जनपद में चल रहे हैं और उसके विकास के लिए जिला उद्योग विभाग द्वारा कितना प्रयास किया जा रहा है?

बेल्थरा रोड के पूर्व प्रधान राजू यादव ने जिलाधिकारी से अनुरोध किया कि वह अपनी जमीन इस उद्योग को स्थापित करने के लिए देंगे। पूर्व प्रधान ने कहा कि अगर जिला प्रशासन की तरफ से उन्हें सहयोग मिले तो वह इस उद्योग को एक समूह के रूप में शुरू करेंगे। जिलाधिकारी ने उन्हें आश्वासन दिया कि प्रशासन की तरफ से उन्हें हर संभव सहायता दी जाएगी। तो वहीं इस निरीक्षण के दौरान उप जिलाधिकारी दीपशिखा सिंह ,जिला विकास अधिकारी राजित राम मिश्र के अतिरिक्त गांव के अन्य लोग भी उपस्थित थे।

By : News Desk

Web Stories

Related News