janhittimes

केदारनाथ में हृदयगति रुकने से 10 की मौत, यमुनोत्री में 12…और चारों धाम में अब तक 29 ने गवाई जान

पिछले 10 दिनों में चार धाम यात्रा मार्गों पर तीर्थयात्रियों की अभूतपूर्व 29 मौतों ने प्रशासन को झकझोर कर रख दिया है। केंद्र सरकार ने पर्यटकों की सहायता के लिए भारत-तिब्बत सीमा पुलिस (आईटीबीपी) और राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल (एनडीआरएफ) की टीमों को तैनात करने का फैसला किया है, जबकि सशस्त्र बल चिकित्सा सेवाओं के डॉक्टरों की एक टीम भी केदारनाथ के मार्गों पर तैनात की जाएगी।

केदारनाथ

बता दें, केदारनाथ का जटिल भूगोल लगातार श्रद्धालुओं का दम फुला रहा है। गुरुवार को केदारनाथ पहुंचे दो श्रद्धालुओं ने फिर हृदयगति रुकने से दम तोड़ दिया। इसके अलावा यमुनोत्री में भी एक श्रद्धालु की मौत हुई। अब केदारनाथ में हृदयगति रुकने से मरने वालों संख्या दस और यमुनोत्री में 12 पहुंच गई है। जबकि, चारों धाम में अब तक 29 श्रद्धालु दम तोड़ चुके हैं। तो वहीं, राज्य सरकार के सबसे वरिष्ठ अधिकारियों में से एक ने कहा, “इतनी कम अवधि में इतनी सारी मौतों ने राज्य को हिला दिया है। अब सेना की ओर से केंद्रीय बलों और मेडिकल टीमों की तैनाती के निर्देश जारी किए गए हैं।

By : News Desk

Web Stories

Related News