janhittimes

Punjab पहुंची Delhi Police सुलझाएगी Mohali Blast की गुत्थी ,प्लान तैयार

मोहाली में पंजाब पुलिस के इंटेलिजेंस ऑफिस पर हमले ने पूरे देश में हलचल मचा दी है। इसके पीछे आतंकी साजिश की आशंका है, वहीं पंजाब पुलिस इससे इनकार कर रही है। यह भी माना जा रहा है कि यह हमला खालिस्तानी समर्थकों का किया हो सकता है। अब इस मामले की जांच के लिए दिल्ली पुलिस स्पेशल सेल (Delhi Police Special Cell) की एक टीम भी मोहाली पहुंची है। बता दें, पिछले कुछ सालों से दिल्ली स्पेशल सेल ने ISI- खालिस्तान नेटवर्क (Network) पर कई खुलासे किए हैं।

Mohali Blast

दरअसल, ISI के K-2 डेस्क मॉड्यूल का खुलासा भी सेंट्रल एजेंसियों (Central Agencies) के साथ मिलकर स्पेशल सेल ने ही किया था। इसी को देखते हुए दिल्ली पुलिस स्पेशल सेल (Delhi Police Special Cell) के सीनियर अधिकारियों (Senior Officers) ने एक टीम मोहाली में भेजी है।

जानकारी के अनुसार, टीम को ये जानने और समझने के लिए भेजा गया है कि कैसे RPG से इंटेलिजेंस की बिल्डिंग को टारगेट किया गया था। जानकारी के अनुसार, इस बम ब्लास्ट को लेकर यह बात सामने आई है कि इस वारदात को अंजाम खालिस्तान (Khalistan) समर्थकों ने दिया था। इतना ही नहीं खालिस्तान की मांग कर रहे संगठन सिख फॉर जस्टिस (Organization Sikh for Justice) ने इस ब्लास्ट की घटना की जिम्मेदारी ली है।

इसके अलावा वॉयस मैसज के जरिये प्रतिबंधित संगठन के प्रमुख गुरपतवंत सिंह पन्नू (Gurpatwant Singh Pannu) ने कहा है कि मोहाली पर हमला किया है, आगे हिमाचल पर करेंगे। आपको बता दें कि TOI की रिपोर्ट के मुताबिक पून्नू द्वारा ब्लास्ट की जिम्मेदारी लेने के बाद पंजाब (Punjab) में अलर्ट बढ़ा दिया गया है। पंजाब पुलिस (Punjab Police) ने ब्लास्ट मामले में 18 से 20 संदिग्धों को गिरफ्तार किया है। मंगलवार को पंजाब पुलिस ने हमले के बाद मोहाली में हाई अलर्ट जारी किया था।

इसके वॉयस मैसेज की जांच को लेकर यह पाया है कि यह आवाज प्रतिबंधित संगठन के प्रमुख गुरुपतवंत सिंह (Gurupatwant Singh) की है। मोहाली के एसएसपी विवेक शील सोनी (SSP Vivek Sheel Soni) ने कहा कि हम मामले को सुलझाने के बेहद करीब हैं।

By : News Desk

Web Stories

Related News