janhittimes

ममता बनर्जी को बांग्ला अकादमी पुरस्कार से सम्मानित किया गया

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को उनकी ‘अथक साहित्यिक खोज’ के लिए पहले बांग्ला अकादमी पुरस्कार से सम्मानित किया गया है। यह पुरस्कार इसी साल पेश किया गया था और सीएम ममता को उनकी किताब ‘कबीता बिटान’ के लिए पहला पुरस्कार दिया गया है।

ममता बनर्जी को यह पुरस्कार महान कवि रवींद्रनाथ टैगोर की जयंती के अवसर पर पश्चिम बंगाल सरकार के सूचना और संस्कृति विभाग द्वारा आयोजित ‘कवि प्रणम’ कार्यक्रम में प्रदान किया गया।

ममता बनर्जी

हालाँकि, रिपोर्टों के अनुसार, हालांकि ममता बनर्जी इस कार्यक्रम में मौजूद थीं और जब पुरस्कार दिया गया था, तब वह मंच पर बैठी थीं, लेकिन उन्हें स्वयं पुरस्कार नहीं मिला। मुख्यमंत्री की ओर से राज्य के शिक्षा मंत्री ब्रत्य बसु ने यह पुरस्कार ग्रहण किया.

मंत्री ने कहा कि ममता का नाम राज्य के कुछ सर्वश्रेष्ठ लेखकों के एक पैनल द्वारा पुरस्कार के लिए चुना गया था।

ममता बनर्जी को उनकी 2020 की पुस्तक ‘कबीता बिटान’ के लिए पुरस्कार मिला, जिसे उस वर्ष कोलकाता पुस्तक मेले में लॉन्च किया गया था। पुस्तक में स्वयं मुख्यमंत्री द्वारा लिखी गई 946 कविताएँ हैं।

‘अथक साहित्यिक खोज’ के लिए पुरस्कार उन व्यक्तियों को दिया जाएगा जो अन्य क्षेत्रों में काम करते हुए साहित्य लिखते हैं। खुद को अवॉर्ड देने के लिए बीजेपी के कुछ नेताओं ने सीएम बनर्जी का मजाक भी उड़ाया है. उल्लेखनीय है कि राज्य के शिक्षा मंत्री ब्रत्य बसु स्वयं बांग्ला अकादमी के अध्यक्ष हैं।

By : News Desk

Web Stories

Related News

Also Read