janhittimes

बड़ा हादसा: गंगा में नहाते वक्त डूबे बिजनौर के चार युवक, जांच में जुटी पुलिस

उत्तर प्रदेश के मेरठ में स्तिथ हस्तिनापुर से खबर है जहां चांदपुर सीमा को जोडने के लिए भीमकुंड गंगा नदी पर बने पुल के समीप गंगा नहाने गए चार युवक डूब गए हैं। कड़ी मशक्कत के बाद ग्रामीणों ने एक युवक का सकुशल बचा लिया। जबकि तीन युवक गंगा के गहरे पानी में समा गये। मौके पर पहुंची थाना पुलिस और परिजन गंगा में युवकों की तलाश में जुटे है।

जानकारी के अनुसार बुधवार दोपहर को बिजनौर के बस्टा गांव निवासी वाहिद (25) पुत्र रहमतुल्लाह, फुरकान (20) पुत्र समीम, शाहरुख (23) पुत्र नसीम, वहीं आसिफ (22) पुत्र बाबू भीमकुंड गंगा पुल पर गंगा में नहाने के लिए आए थे। बताया गया कि चारों में से कोई सा भी युवक तैरना नहीं जानता था। इसके बावजूद वह पुल के नीचे की ओर गंगा में नहाने लगे। वहीं गंगा किनारे गहरे पानी पर युवकों को नहाते देख गंगा किनारे पर प्लेज की खेती करने वाले किसानों ने उन्हें गंगा में नहाने के लिए मना किया और कहा कि यहां पर अत्यधिक गहराई है, इसलिए यहां पर नहाना खतरे से खाली नहीं है। इसके बावजूद भी वह नहीं माने और नहाने लगे। नहाते वक्त अचानक पानी का बहाव तेज होना और अत्यधिक गहराई होने के कारण चारों गंगा में डूबने लगे और मदद की गुहार लगाने लगे।

युवकों के गंगा में डूबने की भनक लगते ही किसान मौके पर दौड़ पड़े और जान की बाजी लगाकर गंगा में डूब रहे आसिफ को सुरक्षित बचा लिया। हालांकि उसके तीनों दोस्तों को बचाने में कामयाबी नहीं मिली। जिसके बाद घटना की सूचना गंगा में डूबते वक्त बचाए गए आसिफ की मदद से परिजनों को दी गई। थाना पुलिस की घंटों कड़ी मशक्कत और रेस्क्यू के बाद भी युवकों का कोई पता नहीं चल सका।

इस संबंध में हस्तिनापुर थाना प्रभारी मुनीष पाल सिंह ने बताया कि गंगा में डूबे चार युवकों में से एक को सुरक्षित बचा लिया गया है। वहीं तीन युवक अभी लापता हैं। स्थानीय गोताखोरों की मदद से युवकों की तलाश की जा रही है। बताया कि अत्यधिक पानी की गहराई और तेज बहाव के कारण गोताखोरों को परेशानी हो रही है। इसलिए फ्लड कंपनी की मांग की गई है। कुछ देर में फल्ड कंपनी मौके पर पहुंच जाएगी।

 

BY : News Desk 

Web Stories

Related News