janhittimes

Akhilesh Yadav के बयान पर Mayawati का पलटवार, बोलीं- जो खुद CM बनने का सपना पूरा नहीं कर सके, वो मुझे PM कैसे बनाते?

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के बाद अब नए राष्ट्रपति को लेकर सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव और बसपा सुप्रीमो मायावती आमने-सामने हैं। इसी पर मायावती(Mayawati) ने समाजवादी पार्टी पर अफवाह फैलाने का आरोप लगाया कि वह भारत की राष्ट्रपति बनना चाहती हैं। उन्होंने कहा, “मैं राष्ट्रपति बनने का सपना कभी नहीं देखूंगी क्योंकि मुझे आराम की जिंदगी नहीं बल्कि संघर्ष की जिंदगी चाहिए।” “मैं फिर से उत्तर प्रदेश का मुख्यमंत्री और देश का प्रधानमंत्री बनने का सपना देखता हूं।” तो इसी पर मायावती अखिलेश यादव के उस बयान पर भड़क गईं, जिसमें सपा अध्यक्ष ने कहा था कि वे भी चाहते थे कि मायावती पीएम बनें। मायावती ने अखिलेश यादव के बयान पर जवाब देते हुए कहा कि जो कई-कई पार्टियों से गठबंधन करके भी अपना सीएम बनने का सपना पूरा नहीं कर सके हैं, वे दूसरों को पीएम बनाने का सपना कैसे पूरा कर सकते हैं।

आपको बता दें कि, एक बार फिर बसपा सुप्रीमो ने सपा और अखिलेश यादव पर हमला बोलते हुए राष्ट्रपति उम्मीदवार बनने के अटकलों पर प्रतिक्रिया दी है। पूर्व सीएम ने शुक्रवार को कहा- “मैं आगे सीएम व पीएम बनूं या ना बनूं, लेकिन मैं अपने कमजोर व उपेक्षित वर्गों के हितों में देश का राष्ट्रपति कतई भी नहीं बन सकती हूँ. अतः अब यूपी में सपा का सीएम बनने का सपना कभी भी पूरा नहीं हो सकता है।”

इसके अलावा सपा पर निशाना साधते हुए मयावती ने कहा- “सपा मुखिया यूपी में मुस्लिम व यादव समाज का पूरा वोट लेकर तथा कई-कई पार्टियों से गठबन्धन करके भी जब अपना सीएम बनने का सपना पूरा नहीं कर सके हैं, तो फिर वो दूसरों का पीएम बनने का सपना कैसे पूरा कर सकते हैं?”मायावती ने साल 2019 के लोकसभा चुनाव का जिक्र करते हुए लिका- “इसके साथ ही, जो पिछले हुये लोकसभा आमचुनाव में, बी.एस.पी. से गठबन्धन करके भी, यहाँ खुद 5 सीटें ही जीत सके हैं, तो फिर वो बी.एस.पी. की मुखिया को कैसे पीएम बना पायेंगे? अतः इनको ऐसे बचकाने बयान देना बन्द करना चाहिये।”

By : News Desk

Web Stories

Related News

Also Read